गृह पृष्ठ - पुस्तकें - अनंतकाल से प्रेरित

अनंतकाल से प्रेरित
शिक्षक: जॉन बीविअर

इस पृथ्वी पर का यह जीवन केवल बाष्प है, फिर भी हम में से अनेक लोग इस प्रकार जीवन व्यतीत करते है मानो जीवन की दूसरी तरफ कुछ भी नहीं है। लेकिन हम यह जीवन किस प्रकार व्यतीत करते है इसपर हमारा अनंतकाल निर्भर होगा। वचन बताता है कि विश्वासियों के लिए भिन्न स्तर के प्रतिफल और पुरस्कार होंगे – व्यक्ति ने इस जीवन में जो कुछ प्राप्त किया वह सब न्याय के सिंहासन के सामने जलाए जाने से लेकर मसीह के साथ राज्य करने तक के पुरस्कार शामिल होंगे।

2 कुरिन्थियों 5:9-11 के सिद्धांत के आधार पर, जॉन बीविअर हमें स्मरण दिलाते है कि हर मसीही को जीवन में जो कुछ किया है उसका प्रतिफल पाने के लिए मसीह के सामने खड़े होना पड़ेगा। हम में से अनेक इस बात को जानकर आश्चर्यचकित होंगे कि हमने जीवन का अधिकांश समय ऐसी बातों में व्यर्थ गवायाँ जो अनंतकाल के पुरस्कार के लिए किसी भी प्रकार से गिने नहीं जाते।

तो फिर हम किस प्रकार अर्थपूर्ण जीवन विकसित कर सकते है? ‘अनंतकाल से प्रेरित’ में आप अपनी बुलाहट को जानकार परमेश्वर ने आपको जो दिया है उसे बहुगुणित कैसे करना है यह सीखेंगे। जब आपको अनंतकाल का दृष्टिकोण प्राप्त हो जाएगा, तो आप सर्वदातक टिकने वाली बातों के लिए कार्य करने के लिए सामर्थ्य प्राप्त करेंगे।

डाऊनलोड (~2.51 MB)

Share